Karorpati Bana Dega Jhaadu Ka Chamatkari Totka 2022 | झाड़ू पोछा से जुड़ी खास बातें 

Jhaadu Ka Chamatkari Totka

भवन को स्वच्छ व सुन्दर बनाने के लिए सबसे उपयोगी चीज है झाड़ू। झाड़ू को लक्ष्मी का प्रतीक माना गया है । झाड़ू का स्थान हमारे घर में बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। कहा जाता है कि झाड़ू से दरिद्रता रूपी गंदगी को बाहर किया जाता है। आइए जानते हैं झाड़ू पोछा से जुड़ी खास बातें – Jhaadu Ka Chamatkari Totka

Jhaadu Ka Chamatkari Totka

Kya hai Jhaadu Ka Chamatkari Totka

स्थिर लक्ष्मी प्राप्ति के लिए सबसे महत्पूर्ण चीज जिसे हम अक्सर इग्नोर कर देते हैं वो है झाड़ू। आपने कभी गौर किया है कि झाड़ू की वजह से घर में कई बार अशुभ चीजें घटने लगती हैं। माना जाता है कि साफ-सुथरे घर में ही शांति और लक्ष्मी का निवास होता है ।

जिन घरों के कोने-कोने में भी सफाई रहती है, उस घर का वातावरण सकारात्मक बना रहता है। घर के कई वास्तु दोष भी दूर होते हैं। स्वच्छता की शुरूआत झाड़ू से ही होती है। यदि झाड़ू लगाने में या रखने सावधानी न बरती जाए तो घर की पूरी बरकत चली जाती है।

Jane Jhaadu Ka Chamatkari Totka Kya hai

* हम जब भी किसी नए घर में प्रवेश करें, उस समय नई झाड़ू लेकर ही घर के अंदर जाना चाहिए। यह शुभ शकुन माना जाता है। इससे नए घर में सुख-समृद्धि और बरकत बनी रहेगी।
  • कभी भी झाड़ू शाम के समय न लगाएं इससे माता लक्ष्मी रूठ सकती हैं।
  • किसी को अपना इस्तेमाल किया हुआ झाड़ू न दें, इससे धन हानि के योग बनते हैं।
  • घर में एक साथ जोड़कर दो झाड़ू न रखें, ऐसा करने से लड़ाई झगड़ा होता है।
  • जब भी आप नए घर में जाएं उस समय पुराने झाड़ू को सही स्थान पर छोड़कर ही नए घर में प्रवेश करें, लेकिन पुराने घर में इसे न छोड़ें।
  • पोछे को भी घर में सही स्थान पर ही रखें और कभी भी पोछे की बाल्टी में पानी में डुबोकर गंदा पोछा न छोड़ें।

झाड़ू कब खरीदें

* अगर आपका झाड़ू खरीदना चाहते हैं तो इसके लिए मंगलवार और शनिवार का दिन सबसे शुभ होता है. शनिवार को नई झाड़ू का उपयोग करना बेहद शुभ माना जाता है। कृष्णपक्ष में ही झाडू खरीदनी शुभ मानी जाती है। जबकि शुक्लपक्ष में खरीदी गई झाड़ू अशुभता की निशानी मानी जाती है। लिहाज़ा जब भी झाडू खरीदें, कृष्ण पक्ष में ही खरीदें। आपके घर सुख-समृद्धि और संपन्नता का कारण बनता है।

* नई झाड़ू का इस्तेमाल हमें शनिवार को ही करना चाहिए, और उसे छुपा कर रखनी चाहिए ।

Jhaadu Ka Chamatkari Totka
Jhaadu Ka Chamatkari Totka

झाड़ू छिपा कर रखें : Jhaadu Ka Chamatkari Totka

* झाड़ू किसी ऐसी जगह पर ना रखें, जिस पर आसानी से लोगों की नजर चली जाए या पैर से छू जाए. इससे आर्थिक हानि होती है। खुले स्थान पर झाड़ू रखना अपशकुन माना जाता है, इसलिए इसे छिपा कर रखें।

* यदि अपने घर के बाहर हर रोज रात के समय दरवाजे के सामने झाड़ू रखते हैं तो इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं करती है। ये काम केवल रात के समय ही करना चाहिए। दिन में झाड़ू छिपा कर रखें।

* भोजन कक्ष में झाड़ू न रखें, क्योंकि इससे घर का अनाज जल्दी खत्म हो सकता है। साथ ही, स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

Jane Jhaadu Ka Chamatkari Totka

* सूर्यास्त के बाद घर में झाड़ू पोंछा गलती से भी नहीं लगाना चाहिए। ऐसा करना अपशकुन माना जाता है।

* झाड़ू कभी भी अपने बेड के नीचे ना रखें. इससे पति-पत्नी के रिश्ते में दरार आती है और घर में झगड़े बढ़ते हैं। माना जाता है कि ऐसा होने से पति-पत्नी में मतभेद बढ़ता है।

* झाड़ू को कभी भी लांघना नहीं चाहिए और न ही उस पर पैर लगाना चाहिए। माना जाता है कि ऐसा करने से आर्थिक हानि होती है और मां लक्ष्‍मी रूठ हो जाती हैं।

यह भी ज़रूर पढें :

* कभी भी गाय या अन्य जानवर को झाड़ू से नहीं मारना चाहिए। यह अपशकुन माना गया है।

* कोई भी सदस्य किसी खास कार्य के लिए घर से निकला हो तो उसके जाने के तुरंत बाद घर में झाड़ू नहीं लगाना चाहिए। ऐसा करने पर उस व्यक्ति को असफलता का सामना करना पड़ सकता है।

* झाड़ू को कभी भी खड़ी करके नहीं रखना चाहिए। यह अपशकुन माना गया है।

Jhaadu Ka Chamatkari Totka kaise karen

* हमेशा ध्यान रखें कि ठीक सूर्यास्त के समय झाड़ू नहीं निकालना चाहिए। यह अपशकुन है।

* देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त करने के लिए घर के आसपास किसी भी मंदिर में तीन झाड़ू रख आएं। जिस दिन यह काम करना हो, उसके एक दिन पहले ही बाजार से 3 झाड़ू खरीदकर ले आना चाहिए।

* घर में नियमित रूप से पोछा लगाने से आपके घर में लक्ष्मी का निवास होने लग जाता है।

Jhaadu Ka Chamatkari Totka
Jhaadu Ka Chamatkari Totka

गुरुवार को घर में पोछा न लगाएं : Jhaadu Ka Chamatkari Totka

* पुरानी मान्यता है कि गुरुवार को घर में पोछा न लगाएं ऐसा करने से लक्ष्मी रूठ जाती है। शेष सभी दिनों में पोंछा लगाना चाहिए।

* पोंछा लगाने वाले पानी में पांच चम्मच सादा समुद्री नमक मिलाने से सकारात्मक असर जल्दी होता है। इससे नकारात्मक ऊर्जा को कम किया जा सकता है।

Aise Karen Jhaadu Ka Chamatkari Totka

* झाड़ू अगर टूट टूटकर घर में गिर रही है तो इसे दरिद्रता की निशानी और धन की हानि माना जाता है। ऐसा होने परघर में नकारात्‍मक ऊर्जा आती है और उस घर पर संकट आने लगता है। इसलिए ऐसी झाड़ू को हटा दें।

* झाड़ू का हमें आदर करना चाहिए ,ज्यादा पुरानी टूटी-फूटी झाड़ू का इस्तेमाल घर में नहीं करना चाहिए, इससे घर में रोजगार धंधे में वृद्धि नहीं होती है।

* ध्‍यान रखें कि कभी भी झाड़ू से जमीन पर गिरा हुआ जूठा खाना न साफ करें। ऐसा करना दोषपूर्ण माना जाता है। पहले उसे कपड़े से साफ करने के बाद ही उस स्‍थान पर झाड़ू का प्रयोग करें।

झाड़ू कब फेकें

* गुरुवार या फिर शुक्रवार को पुरानी झाड़ू को घर से बाहर न फेकें। इन्हें इस दिन घर से फेंकना मां लक्ष्‍मी का अपमान माना जाता है। जिस घर में ऐसा होता है वहां से मां लक्ष्‍मी चली जाती हैं।

* अमावस्‍या के दिन आप घर से टूटी-फूटी पुरानी वस्‍तुएं या फिर कबाड़ा हटा सकते हैं। इसी के साथ आप पुरानी टूटी हुई झाड़ू भी अमावस्‍या या शनिवार के दिन घर से हटा सकते हैं।

Jhaadu Ka Chamatkari Totka

बेडरूम में न रखें झाड़ू या पोछा

आप झाड़ू और पोछे को छिपा कर रख सकते हैं लेकिन आपको कभी भी बेडरूम में सफाई के उपकरण नहीं रखने चाहिए, इससे पति-पत्नी के रिश्ते प्रभावित हो सकते हैं। कोई भी सफाई का सामान बेडरूम में रखने से घर में नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।

पूजन के बाद झाड़ू नहीं लगानी चाहिए

यदि आपके घर में कोई पूजा या अनुष्‍ठान हो रहा है, तो पूजन से पहले ही झाड़ू लगाएं, पूजन के बाद झाड़ू नहीं लगानी चाहिए। ऐसा करने से पूजा के बाद घर में आई सकारात्‍मक ऊर्जा भी झाड़ू के साथ घर के बाहर निकल जाती है। कभी भी टूटी हुई झाड़ू से आपको झाड़ू नहीं लगानी चाहिए।

झाड़ू को कहां से लगाना शुरू करें?

झाड़ू को हमेशा रसोई से लगाना शुरू करें और अंत में घर के मुख्‍य द्वार से सारा कूड़ा बाहर निकालते हुए नाली में फेंक कर पानी डाल दें। आप बाथरूम से भी झाड़ूलगाने की शुरुआत कर सकती हैं। आपको बता दें कि सबसे ज्‍यादा नकारात्‍मक ऊर्जाघर के बाथरूम में ही होती है। इसलिए झाड़ू के बाद नमक का पोछा भी जरूर लगाएं।

Conclusion

दोस्तो, आज मैंने आपको झाड़ू पोछा से जुड़ी खास बातें  ( Jhaadu Ka Chamatkari Totka ) बताई। आशा करती हूं कि ये पोस्ट आपको बहुत पसंद आयी होगी।

by Tripti Srivastava
मेरा नाम तृप्ति श्रीवास्तव है। मैं इस वेबसाइट की Verified Owner हूँ। मैं न्यूमरोलॉजिस्ट, ज्योतिषी और वास्तु शास्त्र विशेषज्ञ हूँ। मैंने रिसर्च करके बहुत ही आसान शब्दों में जानकारी देने की कोशिश की है। मेरा मुख्य उद्देश्य लोगों को सच्ची सलाह और मार्गदर्शन से खुशी प्रदान करना है।

1 thought on “Karorpati Bana Dega Jhaadu Ka Chamatkari Totka 2022 | झाड़ू पोछा से जुड़ी खास बातें ”

  1. Keep it up and in the future sharing more articles like this. I read your post and got it quite informative. I couldn't find any knowledge on this matter prior to. You are sharing a piece of nice information, it helped me. Get the best info about House vastu

    Reply

Leave a Comment