Lo Shu Grid in hindi 2022 I लोशू ग्रिड क्या है (पूरी जानकारी)

 

Lo shu grid Remedies in Hindi – लोशू ग्रिड क्या है पूरी जानकारी

 

Lo shu Grid के प्रत्येक खाने मे एक नंबर होता है जो कि उस खाने के ग्रह को दर्शाता है । प्रत्येक कॉलम या पंक्ति मे 3 अंकों की मौजूदगी से व्यक्ति के विशेष गुणों की पहचान होती है । इस प्रकार अपनी जन्म-तिथि मे जो भी अंक हैं उसी के अनुसार हम अपनी विशेषताओं को पहचान सकते हैं । 
 
 

लोशू ग्रिड क्या है ? What is Lo shu Grid ?

 
लोशू ग्रिड 3 पंक्तियों और 3 स्तंभों की एक तालिका है। लोशू ग्रिड के 9 वर्ग 9 ग्रहों का प्रतिनिधित्व करते हैं। इस वर्ग को लो शू ग्रिड के रूप में जाना जाता है। प्रत्येक क्षैतिज, ऊर्ध्वाधर या विकर्ण के तीनों खाने में मौजूद कुल अंको का जोड़ 15 है। 15 अमावस्या और पूर्णिमा के बीच के दिनों की भी संख्या है।
 

Lo shu grid Remedies in Hindi

 
Lo shu grid Remedies in Hindi
Lo shu grid Remedies in Hindi
 
 

अंकशास्त्र: अपना मूलांक और भाग्यांक कैसे जानें ?

सबसे पहले हम मूलांक और भाग्यांक कैसे निकाले जाते हैं इसके बारे में जानेंगे। मूलांक और भाग्यांक एक दुसरे से अगर Compatible हो, तो यह बात उस व्यक्ति के लिए लाभकारक होती है। इसके उलटे अगर मूलांक और भाग्यांक एक दुसरे से Incompatible हो तो यह बात उस व्यक्ति के लिए छोटी-बडी समस्याएं पैदा कर सकती है।

मूलांक या जन्मांक क्या है ?  What is Birth Number ?

मूलांक या जन्मांक को अंग्रेजी में  Birth Number  से जाना जाता हैमूलांक से व्यक्ति का स्वभाव, गुणदोष, व्यक्तित्व आदि के बारे में पता चलता है

मूलांक केवल महीने की उस तारीख से निकाला जाता है, जिस तारीख को संबंधित व्यक्ति का जन्म हुआ. उस व्यक्ति का जन्म किस महिने या साल में हुआ इस बात का मूलांक निकालने से कोई संबंध नही होता है

Lo shu grid Remedies in Hindi

किसी भी व्यक्ति का जन्म महीने की जिस तारीख को होता है वही उस व्यक्ति का मूलांक या जन्मांक होता है, अगर वह तारीख 1 से 9 तक हो  ( जैसे कि आपकी की जन्मतारीख 5 है तो आपका मूलांक 5 है, आपकी की जन्मतारीख 2 है तो आपका मूलांक 2 है )

अगर वह तारीख 10 से 31 तक की हो, तो उस तारीख में जो 2 अंक हैं, उन्हे जोडने पर जो योग आता है, वह अंक ही उस व्यक्ति का मूलांक होता हैजैसे अगर आपका जन्म 15 तारीख पर हुआ है तो तो आपका मूलांक 1+5=6 है इसी प्रकार आपका जन्म अगर 17 तारीख पर हुआ है तो आपका मूलांक 1+7=8 है, और 29 तारीख को हुआ है तो आपका मूलांक 2+9=11= 1+1=2 है

भाग्यांक क्या है ?  What is Life Path Number?

भाग्यांक को अंग्रेजी में  Life Path Number से जाना जाता है भाग्यांक से पता चलता है कि उस व्यक्ति का जीवन किस दिशा में जा सकता है भाग्यांक मूलांक से जादा महत्वपूर्ण होता है

किसी व्यक्ति की पूरी जन्मतारीख ( DD/MM/YYYY ) में जितने भी अंक हैं उन्हे जोडने पर जो अंक मिलता है, उसे भाग्यांक कहा जाता है। dd / mm / yyyy के मामले में, Mulank dd का योग है और bhagyank, dd + mm + yyyy है।

numerology
lo shu grid missing numbers remedies

 

लोशु ग्रिड में Missing numbers

लोशु ग्रिड में सभी अंकों का होना संभव नही होता है। कोई न कोई अंक अनुपस्थित होता है। यदि लोशु ग्रिड में कोई अंक अनुपस्थित होता है तो उस अंक की विशेषताओं से हम वंचित रह जाते हैं। किसी अंक का Lo shu grid में ना होना Missing number कहलाता है। 

लोशु ग्रिड में Repeated numbers 

यह बहुत सामान्य है कि हमारे जन्म की तारीख में कुछ संख्याओं को Repeat किया जा सकता है। किसी संख्या के एक से अधिक बार होना Repeated numbers कहलाता है। Numerology में, जन्म की तारीख में Repeating of numbers काफी महत्वपूर्ण है।

Lo shu grid Example

जैसे कि मान लीजिये कि किसी व्यक्ति का जन्म 14 जनवरी 1986 के दिन हुआ है इसे हम 14/01/1987 ऐसे लिखते है अब इन सब अंको को जोडने पर कुल जोड 31 होता है  (1+4+0+1+1+9+8+7=31)चूंकि इस जोड में दो अंक है, हमें इसे फिर से जोडना पडेगा यह जोड 4 आता है (31=3+1=4)इसलिये 14/01/1987 के दिन जन्मे हुए उस व्यक्ति का भाग्यांक 4 है

Lo shu grid Remedies in Hindi

इस प्रकार आप भी अपने मूलांक और भाग्यांक को जान सकते हैंमूलांक या भाग्यांक निकलना एक बहुत ही आसान चीज है, इसके लिए गणित का सामान्य ज्ञान काफी है

मूलांक और भाग्यांक एक दुसरे से अगर compatible हो, तो यह बात उस व्यक्ति के लिए लाभकारक होती है इसके उलटे अगर मूलांक और भाग्यांक एक दुसरे से incompatible हो तो यह बात उस व्यक्ति के लिए छोटी-बडी समस्याएं पैदा कर सकती है

Lo shu grid details

For more details, please watch this video….

लोशु ग्रिड के video के माध्यम से आइये जानते हैं आपके जन्म-तिथि में उपस्थित हर अंक के बारे में…

 

लोशु ग्रिड कैसे बनाते हैं ( How to make Loshu Grid )

Loshu Grid में हर संख्या के लिए निश्चित स्थान हैं। बस अपने DOB ( जन्मतारीख ) में मौजूद नंबरों को उनके संबंधित स्थानों पर रखें। मूलांक और भाग्यांक भी रखें।

 

यह भी जरुर पढ़े :

Best Remedies for Repeated numbers in Lo shu Grid in Hindi 2021

 
 
 
 

Loshu Grid Chart

Loshu Grid चार्ट को विभिन्न तरीकों से देखा जा सकता है।

Lo shu Grid – Horizontal Lines :

शीर्ष पंक्ति (संख्या 4, 9 और 2) किसी व्यक्ति के सिर का प्रतिनिधित्व करती है। दूसरे शब्दों में, शीर्ष पंक्ति को मानसिक प्लेन ( Mental Plane ) माना जा सकता है। इसमें सोच, निर्माण, कल्पना और विश्लेषण शामिल है।

मध्य पंक्ति (संख्या 3, 5 और 7) शरीर का प्रतिनिधित्व करती है। मध्य पंक्ति को भावनात्मक प्लेन ( Emotional Plane ) कहा जाता है। इस प्लेन में आध्यात्मिकता, अंतर्ज्ञान, भावनाओं और भावनाओं को शामिल किया गया है।

अंत में, नीचे की पंक्ति (संख्या 8, 1 और 6) पैरों का प्रतिनिधित्व करती है। नीचे की पंक्ति को प्रैक्टिकल प्लेन ( Practical Plane ) कहा जाता है। इसमें शारीरिक श्रम, रचनात्मकता और रोजमर्रा की जिंदगी में व्यावहारिक होने की क्षमता शामिल है।
 
 

Lo shu Grid – Vertical Lines :

ऊर्ध्वाधर पंक्तियों (संख्या 4, 3 और 8) में से पहला थॉट प्लेन (Thought Plane ) है। इससे व्यक्ति की विचारों के साथ आने, चीजों को बनाने और उन्हें फलने-फूलने की क्षमता का पता चलता है।

मध्य ऊर्ध्वाधर पंक्ति (संख्या 9, 5 और 1) विल प्लेन है ( Will Plane )। इससे सफल होने का दृढ़ संकल्प और दृढ़ता मिलती है।

अंतिम ऊर्ध्वाधर पंक्ति (संख्या 2, 7 और 6) एक्शन प्लेन ( Action Plane ) है। यह व्यक्ति के विचारों को कार्य में लगाने की क्षमता को दर्शाता है।

 

Conclusion

दोस्तों, इस Post में हमने लोशू ग्रिड के बारे में पूरी जानकारी  ( Lo shu grid Remedies in Hindi 2021 ) बताया। हमारी ये पोस्ट कैसी लगी, कृपया कमेन्ट करके बताएं। अगर पोस्ट अच्छी लगी हो या आपको इस Post से related कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे Comment करें और इस Post को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें।

FAQs

लोशू ग्रिड क्या है ?

लोशू ग्रिड 3 पंक्तियों और 3 स्तंभों की एक तालिका है। लोशू ग्रिड के 9 वर्ग 9 ग्रहों का प्रतिनिधित्व करते हैं।

लोशु ग्रिड में Missing numbers क्या है ?

लोशु ग्रिड में किसी अंक (1 to 9) का Lo shu grid में ना होना Missing number कहलाता है। 

लोशु ग्रिड में Repeated numbers क्या है ?

लोशु ग्रिड में किसी संख्या के एक से अधिक बार होना Repeated numbers कहलाता है।

लोशु ग्रिड कैसे बनाते हैं ?

Loshu Grid में हर संख्या के लिए निश्चित स्थान हैं। बस अपने DOB में मौजूद नंबरों को उनके संबंधित स्थानों पर रखें। मूलांक और भाग्यांक भी रखें।

by Tripti Srivastava
मेरा नाम तृप्ति श्रीवास्तव है। मैं इस वेबसाइट की Verified Owner हूँ। मैं न्यूमरोलॉजिस्ट, ज्योतिषी और वास्तु शास्त्र विशेषज्ञ हूँ। मैंने रिसर्च करके बहुत ही आसान शब्दों में जानकारी देने की कोशिश की है। मेरा मुख्य उद्देश्य लोगों को सच्ची सलाह और मार्गदर्शन से खुशी प्रदान करना है।

9 thoughts on “Lo Shu Grid in hindi 2022 I लोशू ग्रिड क्या है (पूरी जानकारी)”

  1. Dear Mam
    Please tell me this Date of Birth :05-08-1999 . Future and Missing numbers remedies it’s urgent.
    Name : Ashish Anand

    Reply
  2. Hello mam meri birth date 13/01/1981
    Hai meri life me bahut presaniya hai
    Kam sahi nahi chal Raha karza bhi bahut hai har tarah se presan hu kripa kar ke meri presani ka koi upay bataiye.��

    Reply
  3. Mam, my date of birth is 17-02-1979. 3,4,5,6 nos. are missing, I have done remedies, shared by you on your youtube channel.
    Except that pls share any other things I have to do..Regards

    Reply

Leave a Comment