Kua Number in Numerology | How to Calculate Your Feng Shui Kua Number (1-9)

Kua Number in Numerology – Lo shu Grid कुआ नम्बर 

Contents.....

हममें से प्रत्येक व्यक्ति का एक अति महत्वपूर्ण नंबर होता है जिससे हमारे जीवन की दशा-दिशा निर्धारित होती है। इस नंबर को फेंगशुई में कुआ नम्बर (Kua Number) की संज्ञा दी गई है। कुआ नम्बर का निर्धारण हमारी जन्म तिथि के आधार पर होता है।

फेंग शुई में कुआ अंक को बड़ी अहमियत प्रदान की जाती है। कुआ नंबर का उपयोग फेंगशुई में भाग्यशाली दिशा को जानने के लिए किया जाता है।

यदि इसके अनुसार शुभ दिशाआं का निर्धारण कर कार्य संपादित किया जाता है तो यह आशातीत सफलता का मार्ग प्रशस्त करता है। अतः इसे अपनाकर अपना जीवन सुखी एवं बेहतर बनाएं।

Kua Number in Numerology 
      Kua Number in Numerology

 

जानिए अपना कुआ नम्बर और खोलिए सफलता का मार्ग – Know Your Kua Number

कुआ नम्बर की गणना करने के उपरांत हमें पता चलता है कि कौन सी दिशाएं एवं रंग हमारे लिए सौभाग्यशाली हैं तथा अगर हम उन दिशाओं एवं रंगों को महत्व प्रदान कर अपनी जीवन शैली को उसी के अनुरूप ढालें तो ऐसा करना हमारे जीवन में असीम सफलता का मार्ग प्रशस्त कर सकता है। इसी प्रकार कुआ नम्बर के अनुसार हमारे लिए कुछ नकारात्मक दिशाएं होंगी जिनका त्याग करना हमारे सुखी-जीवन के लिए अति आवश्यक है।

एंजेल नंबर (Angel Number)

कुआ नंबर को एंजेल नंबर भी कहा जाता है। इसका उपयोग हमारी अनुकूल दिशा निर्धारित करने के लिए किया जाता है। यह हमें हमारे घर या हमारे कार्यालय में अपना काम करते समय सामना करने के लिए हमारी अनुकूल दिशा बताता है।

हम इस दिशा का उपयोग आपके काम के लिए, सामने के दरवाजे के लिए, अपने कमरे के लिए और कई तरह से कर सकते हैं

 

HOW TO CALCULATE KUA NUMBER (Kua Number in Numerology )

 ( कुआ नम्बर की गणना कैसे करें )

  • कुआ नंबर कैलकुलेट करने के लिए सबसे पहले अपने जन्म वर्ष के अंतिम दो अंको का टोटल करके सिंगल डिजिट में ले आए। इन्हें एक साथ तब तक जोड़ें जब तक आपको एक अंक प्राप्त न हो जाए।
  • कुआ अंक इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपका जन्म 2000 से पहले हुआ है या बाद में।
  • पुरूषों एवं महिलाओं के लिए कुआ नम्बर की गणना की विधि में थोड़ी भिन्नता है।
  • आप अपने लिंग के आधार पर अपने एकल अंकों के जन्म वर्ष के परिणाम से संख्याओं को जोड़ेंगे या घटाएंगे।
  • कुआ नंबर चीनी सौर कैलेंडर पर आधारित है जिसमें पश्चिमी कैलेंडर की तुलना में वर्ष का पहला दिन अलग होता है, जो 4 फरवरी या उसके आसपास शुरू होता है। यदि आपका जन्म 4 फरवरी से पहले हुआ हो तो गणना में प्राप्त हुए कुआ नम्बर में 1 और जोड़ दें।

पुरूषों के कुआ नम्बर की गणना Kua Number in Numerology  for Male

मान लीजिए कि आप एक पुरूष हैं तथा आपकी जन्मतिथि 15 फरवरी 1976 है। आपके कुआ नम्बर की गणना निम्न प्रकार से होगी:

Step 1: अपने जन्मवर्ष के अंतिम दो अंकों को जोड़ें तथा यदि पुनः दो अंक बने तो उसे जोड़कर एकल अंक (Single digit) में परिवर्तित करें।

उदाहरण: यहां जन्मवर्ष 1976  है। अतः अंतिम दो अंक अर्थात् 7+6 = 13, इसे एकल अंक में परिवर्तित करने पर बना अंक = 1+3 = 4

Step 2: Step 1 में जो अंक प्राप्त हुआ है उसे 10 में से घटा दें। जो अंक प्राप्त होगा वही आपका कुआ नम्बर है।

इस उदाहरण में कुआ नम्बर = 10-4 = 6

यदि आपका जन्म 4 फरवरी से पहले हुआ हो तो गणना में प्राप्त हुए कुआ नम्बर में 1 और जोड़ दें।

2000 से पहले पैदा हुए पुरुषों के लिए कुआ कैलकुलेटर

यदि आप वर्ष 2000 से पहले पैदा हुए पुरुष हैं, तो आपको अपने एकल अंक वाले वर्ष के परिणाम को 10 से घटाना होगा। इससे आपका कुआ नंबर मिल जाएगा।

Example – एक पुरुष जन्म वर्ष 1972,

7+2=9

10 – 9 = 1 (कुआ संख्या)

यदि आपका जन्म 4 फरवरी से पहले हुआ हो तो गणना में प्राप्त हुए कुआ नम्बर में 1 और जोड़ दें।

2000 और उसके बाद पैदा हुए पुरुषों के लिए कुआ नंबर कैलकुलेटर

यदि आप वर्ष 2000 के बाद पैदा हुए पुरुष हैं, तो आपको अपने एकल अंक वाले वर्ष के परिणाम को 9 से घटाना होगा। यह आपका कुआ नंबर देगा।

उदाहरण, यदि आपका जन्म 2004 में हुआ है, तो आपका एकल अंक परिणाम 4 है:

Example – एक पुरुष जन्म वर्ष 2004,

0+4=4

9 – 5 = 4 (कुआ संख्या)

यदि आपका जन्म 4 फरवरी से पहले हुआ हो तो गणना में प्राप्त हुए कुआ नम्बर में 1 और जोड़ दें।

महिलाओं के कुआ नम्बर की गणना – Kua Number in Numerology for Female

अब मान लीजिए कि आप एक महिला हैं तथा आपकी भी जन्मतिथि 15 फरवरी 1976 ही है। महिला होने के कारण आपके कुआ नम्बर की गणना निम्न प्रकार से की जाएगी।

Step 1: अपने जन्मवर्ष के अंतिम दो अंकों को जोड़कर उसे एकल अंक (Single digit) में परिवर्तित करें।

7+6= 13;

1+3 = 4

Step 2: जो अंक Step 1 में प्राप्त हुआ उसमें 5 और जोड़ दें।

4+5 = 9

इस प्रकार प्राप्त अंक 9 आपका कुआ नम्बर हुआ।

यदि आपका जन्म 4 फरवरी से पहले हुआ हो तो गणना में प्राप्त हुए कुआ नम्बर में 1 और जोड़ दें।

2000 से पहले जन्मी महिलाओं के लिए कुआ नंबर कैलकुलेटर

यदि आप वर्ष 2000 से पहले पैदा हुई महिला हैं, तो आपको अपने एकल अंकों वाले वर्ष के परिणाम में 5 जोड़ना होगा। इससे आपका कुआ नंबर मिल जाएगा।

Example – महिला जन्म वर्ष 1972

7+2=9

9 + 5 = 14

1 + 4 = 5 (कुआ संख्या)

यदि आपका जन्म 4 फरवरी से पहले हुआ हो तो गणना में प्राप्त हुए कुआ नम्बर में 1 और जोड़ दें।

2000 के बाद पैदा हुई महिलाओं के लिए कुआ नंबर कैलकुलेटर

यदि आप एक महिला हैं और 2000 के बाद पैदा हुई हैं, तो अपने वर्ष के परिणाम (एक अंक) में 6 जोड़ें।

Example – एक महिला जन्म वर्ष 2004,

0+4=4

4+6 = 10

1+0=1 (कुआ संख्या)

यदि आपका जन्म 4 फरवरी से पहले हुआ हो तो गणना में प्राप्त हुए कुआ नम्बर में 1 और जोड़ दें।

Read also….

Lo Shu Grid in hindi 2021 I लोशू ग्रिड क्या है (पूरी जानकारी)

Lo shu Grid Missing Numbers Remedies in Hindi 

Best Remedies for Repeated numbers in Lo shu Grid in Hindi 

 

कुआ नंबर शुभ अथवा अशुभ दिशाएं – Kua Number in Numerology 

कुआ नंबर के अनुसार 4 दिशा आपके लिए लकी और 4 दिशा अनलकी होती है। कुआ नंबर को दो विभागों में विभाजित किया गया है – पूर्व (East) ग्रुप और पश्चिम (West) ग्रुप

पूर्व (ईस्ट) ग्रुप और पश्चिम (वेस्ट) ग्रुप

आईये जानते हैं East और West ग्रुप में आने वाले कुआ नंबर और दिशा कोन से हैं।

Kua Number in Numerology 
           Kua Number in  Lo shu Grid
पूर्व समूह

(East group)

कुआ नंबर

 1,3,4,9

उत्तर

(North)

दक्षिण

(South)

पूर्व

(East)

दक्षिण–पूर्व (South-East)
पश्चिम समूह (West group)कुआ नंबर

 2,6,7,8

पश्चिम

(West)

दक्षिण–पश्चिम

(South-West)

उत्तर–पश्चिम (North-West)उत्तर–पूर्व

(North-East)

अब आप देखिये आपका कुआ नंबर किस ग्रुप में आता है अगर East ग्रुप में आता है तो East ग्रुप में आने वाले सभी डायरेक्शन आपके लिए लकी होंगे और अगर आपका कुआ नंबर West ग्रुप में आता है तो West ग्रुप में आने वाले सभी दिशा आपके लिए लकी होंगे।

Example :

मान लिजिये आपका कुआ नंबर 4 है तो देखिये 4 East ग्रुप में आता है तो East ग्रुप में आने वाले सभी डायरेक्शन आपके लिए लकी होंगे।

मान लिजिये आपका कुआ नंबर 6  है तो देखिये 6  West ग्रुप में आता है तो West ग्रुप में आने वाले सभी डायरेक्शन आपके लिए लकी होंगे।

एक बार जब आप अपनी कुआ संख्या की गणना कर लेते हैं, तो आपके जीवन के विभिन्न क्षेत्रों, जैसे काम, स्वास्थ्य, धन, प्रेम आदि के लिए सर्वोत्तम दिशाओं को निर्धारित करना आसान हो जाता है। आठ में से चार दिशाएँ शुभ दिशाएँ होंगी और चार अशुभ दिशाएं होंगी।

कुआ नम्बर, शुभ दिशाएं, अशुभ दिशाएं और सौभाग्यशाली रंग

Kua NumberBest directionWorst directionLucky Color
1SE, E, S, NSW, NE, NW, WBlack, Dark Blue
2NE, W, NW, SWSE, S, E, W, NWYellow, Brown
3S, N,SE, EW,NW, NE, SWGreen
4N, S, E, SENE, SW, W,NWDark Green
5 (Male)NE, W, NW, SN, SE, S, EYellow
5 (Female)SW, NW, W, NESE, N, E, SWYellow
6W, NE, SW, NWS, E, N, SEWhite, Silver
7NW, SW, NE, WE, S, SE, NGolden, Copper
8SW, NW, W, NESE, N, E, SBrown, Yellow
9E, SE, N, SNE, SW, W, NWRed, Violet, Purple

कुआ नंबर और दिशा

कुआ अंक के अनुसार दिशाओं का शुभत्व एवं अशुभत्व अवरोही क्रम (Descending order) में समझा जाना चाहिए। जो शुभ दिशा सबसे पहले है वह उस व्यक्ति के लिए अतिश्रेष्ठ दिशा होगी तथा नीचे की अन्य दिशाओं का शुभत्व क्रमशः थोड़ा कम होता जाएगा। इसी प्रकार से अशुभ दिशाओं के मामले में विचार करना आवश्यक है।

यदि एक ही परिवार में अनेक लोग रहते हैं तो उनके कुआ अंक भी अलग-अलग होंगे। ऐसी स्थिति में घर के प्रधान व्यक्ति को जो आजीविका कमाता है उसको ही महत्व देंना चाहिए। लिविंग एरिया, उसके बेडरूम आदि का संयोजन उसके कुआ अंक के अनुसार ही किया जाना चाहिए। अन्य सदस्य अपने बेडरूम में अपने कुआ अंक के अनुरूप व्यवस्था कर सकते हैं।

पति-पत्नी के कुआ अंक अलग होने पर दोनों के लिए जो उपयुक्त शुभ दिशा हो उसके अनुरूप व्यवस्था करें।

KUA NUMBER COMPATIBILITY (कुआ नंबर अनुकूलता)

माना जाता है कि जिन दो अंकों का योग 10 होता है, वे दो अंकों के बीच सबसे अधिक अनुकूल होते हैं। इसलिए  कुआ संख्या 1-9, 2-8, 3-7, 4-6 आपस में सबसे अधिक संगत हैं। क्योंकि इन सभी दो अंकों का योग 10 होता है।

Kua Number in Numerology

1 + 9 = 10, 1 और 9 = सबसे अच्छा दोस्त

2 + 8 = 10, 2 और 8 = सबसे अच्छा दोस्त

3 + 7 = 10, 3 और 7 = सबसे अच्छा दोस्त

4 + 6 = 10, 4 और 6 = सबसे अच्छा दोस्त

अन्य कुआ संख्या के लिए, मित्रता उसके तत्व (element) की अनुकूलता पर आधारित होती है।

Kua Number in Numerology  

कुआ   प्रेम   मित्र     शत्रु

(Kua – Love – Friend – Enemy

1          9          6,7           2,8

2          8             7        1,3,4

3          7           4,9          2,6

4          6           3,9       2,7,8

6          4        1,7,8          3,9

7          3        1,2,6          4,9

8        2,9             6          1,4

9        1,8           3,4         6,7

कुआ अंक (Angel Number) का उपयोग कैसे करें

आप अपनी कलाई पर हरे रंग के पेन से दैनिक रूप से लिख सकते हैं और इसे गोल कर सकते हैं। इसे लिखते समय इस बात का ध्यान रखें कि आप अपने जीवन में क्या चाहते हैं।

इस जानकारी के साथ, आप अपने जीवन के सभी क्षेत्रों में सुधार कर सकते हैं और उन दिशाओं से बच सकते हैं जो आपके कुआ नंबर के लिए शुभ नहीं हैं।

Conclusion

दोस्तो, इस पोस्ट में मैंने आपको “अंकज्योतिष में कुआ नंबर की सम्पूर्ण जानकारी ( Kua Number in Numerology )” के बारे में बताया। आशा करती हूं कि ये पोस्ट आपको बहुत पसंद आयी होगी।

यदि हमारी ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले। अगर इस पोस्ट को लेकर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो कृपया हमें comment करें।

इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

कुआ नम्बर क्या है?

कुआ नंबर चीनी सौर कैलेंडर पर आधारित है इसका उपयोग फेंगशुई में भाग्यशाली दिशा को जानने के लिए किया जाता है। कुआ नम्बर हमारे जीवन में असीम सफलता का मार्ग प्रशस्त करता है।

कुआ नंबर की गणना कैसे करें?

कुआ नंबर की गणना आपकी जन्म तिथि और आपके लिंग के आधार पर की जाती है। यह अंक आपके सुखी और समृद्ध जीवन के लिए सबसे शुभ और अशुभ दिशाओं को निर्धारित करता है।

कुआ नम्बर का उपयोग कैसे करें?

आप अपनी कलाई पर 21 दिनों तक प्रतिदिन कुआ नंबर को हरे रंग के पेन से लिखकर इसे गोल कर दें। इसे लिखते समय अपनी इच्छाओं की पूर्ति के लिए कामना करें।

by Tripti Srivastava
मेरा नाम तृप्ति श्रीवास्तव है। मैं इस वेबसाइट की Verified Owner हूँ। मैं न्यूमरोलॉजिस्ट, ज्योतिषी और वास्तु शास्त्र विशेषज्ञ हूँ। मैंने रिसर्च करके बहुत ही आसान शब्दों में जानकारी देने की कोशिश की है। मेरा मुख्य उद्देश्य लोगों को सच्ची सलाह और मार्गदर्शन से खुशी प्रदान करना है।

Leave a Comment